Breaking News
पर्यटन केंद्र पर कायदे से खिलवाड़: अटल टनल के भीतर गाड़ी खड़ी करके नाच रहे थे, पुलिस ने 7 को किया गिरफ्तार; वाहन भी जब्त

पर्यटन केंद्र पर कायदे से खिलवाड़: अटल टनल के भीतर गाड़ी खड़ी करके नाच रहे थे, पुलिस ने 7 को किया गिरफ्तार; वाहन भी जब्त

 

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

 

कुल्लू14 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

रोहतांग में अटल टनल के भीतर गाड़ी रोककर मौज-मस्ती कर रहे युवकों की हरकत की वजह से बनी जाम की स्थिति और कार्रवाई के लिए पहुंची पुलिस।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 अक्टूबर को टनल का लोकार्पण कर इसे देश को समर्पित किया था

कुल्लू में गुरुवार को पर्यटकों के द्वारा कायदे से खिलवाड़ का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि ये लोग अटल टनल के भीतर गाड़ी खड़ी करके नाच-गाना कर रहे थे। पुलिस ने इस हरकत पर नकेल कसते हुए 7 पर्यटकों को गिरफ्तार किया है, जबकि उनकी गाड़ी को भी बाहर कर लिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 95 वीं जयंती पर 25 दिसंबर 2019 को उनकी स्मृति में रोहतांग टनल का नामकरण अटल त्रनल रोहतांग के रूप में करने की घोषणा की थी। अब क्रिसमस का मौका है और इसी के चलते पर्यटक यहां गलती कर बैठे।

मिली जानकारी के अनुसार अटल टनल रोहतांग के भीतर कुछ पर्यटकों ने वाहन खड़ा करके हुड़दंग मचाया। इस कारण ट्रैनल के भीतर काफी देर तक यातायात बाधित रहा। हालांकि कुछ समय बाद पुलिस ने यातायात जाम को नियंत्रित कर दिया। साथ ही इस मामले में पुलिस ने 7 पर्यटकों को गिरफ्तार करके उनकी गाड़ी को भी कब्जे में ले लिया है। इसके अलावा अन्य गाड़ियों के टूरिस्ट जो वहाँ ऐसे हरकत कर रहे थे, उन्हें भी हस्तक्षेप की जा रही है।

इसकी पुष्टि कुल्लू के एसपी गौरव सिंह ने की है। उन्होंने बताया कि अब तक इस मामले में 7 पर्यटकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सभी कथित आरोपियों के खिलाफ केस दायर कर लिया गया है, जबकि ऐसी हरकत करने वाले अन्य टूरिस्ट से भी पूछताछ की जा रही है। इसके बाद जो भी कार्रवाई होगी, की जाएगी।

टनल के रूप में हमेशा मनालीवासियों के बीच मौजूद हैं वाजपेयी, जानें खास बातें

  • भारत रत्न और पूर्व प्रधान अटल बिहारी वाजपेयी अटल त्रनल रोहतांग के रूप में हमेशा कुल्लू-मनाली के बशिंदों के बीच मौजूद रहेंगे। रोहतांग टनल का सपना जो वाजपेयी ने अपने लाहौली दोस्त अर्जुन गोपाल के साथ देखा था, वह इस साल पूरा हो गया।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 अक्टूबर को टनल का लोकार्पण कर इसे देश को समर्पित किया था।
  • रोहतांग दर्रे के नीचे रणनैतिक भगवानव को तवज्जो के रूप में साइकिल बनाए जाने का निर्णय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में 3 जून 2000 को लिया गया था।
  • टनल के साउथ पोर्टल को जोड़ने वाली सड़क की आधारशिला 26 मई 2002 को रखी गई थी।
  • वाजपेयी ने साल 2003 में रोहतांग टनल के साउथ पोर्टल को जाने वाली सड़क का शिलान्यास किया था। सुरंग के दोनों छोर 15 अक्टूबर 2017 को जुड़े।
  • हिमाचल प्रदेश सरकार केजरी की बैठक में 20 अगस्त 2018 को रोहतांग टनल का नाम पूर्व प्रधानमंत्री के नाम पर रखने का प्रस्ताव रखा गया था।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाजपेयी की 95 वीं जयंती पर 25 दिसंबर 2019 को उनकी स्मृति में रोहतांग टनल का नामकरण अटल त्रनल रोहतांग के रूप में करने की घोषणा की।

 

Source link

About dailynews

Check Also

टॉप न्यूज़

पर्यटकों की भारी आवाजाही से कोरोना के बढ़ने का खतरा: जिले में घटी कोरोना टेस्टिंग, पिछले माह के मुकाबले 40 फीसदी कम हुए टेस्ट

शिमला4 घंटे पहले लिंक लिंक मंगलवार को रिज टूरिस्ट्स से पैक था। कोरोना नवंबर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *