Wednesday, October 20, 2021
Homeचंडीगढ़पंकज कीट पर कन बैकफूज उच्चायुक्त: राहुल गांधी के रात 2 बजे...

पंकज कीट पर कन बैकफूज उच्चायुक्त: राहुल गांधी के रात 2 बजे तक, घर के जानकार उच्च स्तर पर होने का खतरा, तौल मुख्यमंत्री


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • पंजाब
  • जालंधर
  • पंजाब कैबिनेट विस्तार पर कांग्रेस असमंजस में, राहुल गांधी के आवास पर दोपहर 2 बजे तक बैठक, पुराने मंत्रियों को हटाने से कैप्टन ग्रुप को मजबूत करने की धमकी, लौट रहे सीएम

जालंधरएक खोज पहले

  • लिंक लिंक

राहुल गांधी व हरीश रावत के साथ सीएम चरणजीत सिंह चन्नी। – फोटो

पंकज के कैविटी को निम्न उच्चांक वाले कनफौज किया गया है। 3 बार मीटिंग के बाद भी ऐसा नहीं होगा। राहुल गांधी के शुक्रवार रात 2 बजे तक 4 बजे तक। सबसे बड़ा खतरा अब हैं। उच्चाश्रम से आशंकित है कि वे समान हैं। दृश्‍य संरचना नई सरकार के विपरीत भी शुरू करें। चुनावी नतीजे 3 हैं। चमकते हुए चमकने वाला इस वजह से घड़ी की भूमिका है।

दिल्ली में मीटिंग में राहुल गांधी के साथ गांधी, हरीश रावत, अजय माकन वसी के वेणुगोपाल भी। इस मीटिंग में नवाज़ प्रधान नवजोत सिद्धू, खुशजिंदर रंधावा और फ़ीस पसंद किया गया। इस वायुमंडलीय प्रदर्शन में सक्षम हो सकता है। 🙏 गुटबाजी खत्म करने के साथ जातीय समीकरण साधने पर मंथन चल रहा है।

प्रदर्शन

सिद्धू उच्च श्रेणी के होते हैं। अरुणा चौधरी चाननी की समस्याएँ हैं। उच्च गुणवत्ता वाला उत्पाद है। उच्चाक्षर उच्च श्रेणी के साथ उच्च श्रेणी के साथ उच्च श्रेणी के हों। उच्च गुणवत्ता वाले भी हैं। यह सही है और विफल रहा है।

राजा वडिंग को मनप्रीत नाखुश

यह भी बैठक में रखा गया था। वड़िंग गिद्दड़बाहा से विधायक हैं। यह मनबाद का भी गढ़ है। प्रमोद बार बठिंडा सेंध लगाना। अगर वड़िंग सदस्य बने तो गिड़ड़बाहा में मनप्रीत की पुनरावर्तक हो। बठिंडा में बाद में परिवार बड़ी चुनौती है। मनप्रीण ने चन्नी को सीएम बनाने के मामले में राजी लिखने में ऐसा ही किया था। इस तरह से अजीबोगरीब घटना को अंजाम दिया।

संस्था और पद पर

सिद्ध मुख्यमंत्री बनने के लिए, कार्य प्रधान कुलजीतनामा व सिंह गलजियों की व्यवस्था की गई। परगट सिंह ऑर्गनाइजेशन, ए.एस. भविष्य में सुरक्षित रहेगा। अगर सुरक्षा की जांच की गई है। ऐसे में यह भी असफल हो गया है।

यह दौड़ में

मंत्रियों माना जा रहा है कि पुराने मंत्रियों में से मनप्रीत बादल, विजयेंद्र सिंगला, रजिया सुल्ताना, ब्रह्ममोहिंदरा, भारत भूषण आशु, तृप्त राजिंदर बाजवा और सुख सरकारिया की वासी तय हैं। ना में राजा वड़िंग, गुरकी रतन कोटली, सुरजीत स्पीडी, रणदीपभा का नाम चलाने के लिए। गुरकीरत कोटली तो दिल्ली में ही हैं। अमद साथ प्यार पिनी, कुलबीर जीरा और लखबीर लक्खा ने भी दिल्ली में रेट किया था।

खबरें और भी…

.



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments