Sunday, December 5, 2021
Homeउत्तर प्रदेशदीपगृह में पर्यावरण की चिंता: दीपगृह के लिए दस हजार गोबर के...

दीपगृह में पर्यावरण की चिंता: दीपगृह के लिए दस हजार गोबर के दीप यौवन केंद्र सरकार के पशु पशुपालक नरोत्तम पुरी


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • उत्तर प्रदेश
  • अयोध्या
  • केंद्र सरकार के पशुपालन मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला दस हजार गाय के गोबर के दीपक दीपोत्सव के लिए भेज रहे हैं।अयोध्या। दीपोत्सव 2021। राम की पैड़ी। पुरुषोत्तम रूपाला। लल्लू सुंघी

अयोध्या43 पहले

  • लिंक लिंक

अयोध्या में दीपगृह के मुख्य नवप्रवर्तन केंद्र के पशुपालन मंत्री नरोत्तम वैला ताज दस हजार गोबर से बने दीप (फिटल फोटो)

‍‍‍‌

दीपगृह अयोध्या को विश्व पर्यटन स्थल पर स्थापित करने में सहायक

नरेंद्र मोदी के सलाहकारों ने मीडिया को खराब स्वास्थ्य के लिए योगी आदित्यनाथ के रूप में पेश किया। दीपगृह का वातावरण संसाधन पर संस्थापन में सहायक हो सकता है। गाय के शरीर में 33 प्रकार के पौधे का वास है।

लोगो में गोशाला से संबंधित उत्पाद की अवधारणा विकसित होगी

दीपगृह में दस हजार गो के गोबर से दीपक प्रज्ज्वलित। लोगो में गोशाला से संबंधित उत्पाद की अवधारणा विकसित होगी। क्या गोशाला स्वावलंबी हैं। दीपगृह राम की कल्पना पूरी दुनिया का पूरा का पूरी तरह से पूरी तरह से पूर्ण है। अनुशासित, मरा व वक राम के आदर्श के रूप में। इस बार दीप प्रदर्शनी का काम गो संरक्षण के लिए है।

धर्म और वातावरण के साथ गो विकास की दृष्टि से गोबर से बनने वाला खतरनाक!

दीप गृह पर गो के गोबर से बने दस हजारा दीप युद्ध के लिए पशु मृत्यु, और मतस्य पशुपालक पुरुषोत्तम प्रतापी को अयोध्या के सो-सेंटो व आम मानस की ओर से धन्यवाद दिया गया। केंद्रीय मंत्री के पेंशनर दास ने केंद्रीय मंत्री के लिए इस तरह के वचनों को पूरा किया और हनुमान् में पूर्ण रूप से गोबर से बने की तरह की एक ऐसी बैठक हुई जो कि धर्म और पर्यावरण के गोबर से मिलकर बने थे। दीपक आपदा

खबरें और भी…

.



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments