Breaking News
कृषि बिल का विरोध: किसान नेता ने भाजपा सांसदों और विधायकों को लिखा पत्र, कहा- कृषि कानूनों के फायदे समझा दो धरना कर देंगे खत्म

कृषि बिल का विरोध: किसान नेता ने भाजपा सांसदों और विधायकों को लिखा पत्र, कहा- कृषि कानूनों के फायदे समझा दो धरना कर देंगे खत्म

 

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

 

नोएडा34 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

यूपी के नोएडा में चिल्ला बार्डर के पास जमे किसानों ने नोएडा के भाजपा सांसदों और विधायकों को पत्र लिखा है। किसानों का कहना है कि भाजपा के लोग नए कृषि बिल के फायदे बता दें कि हमें धरना समाप्त कर देंगे।

  • चिल्ला बार्डर पर 11 किसान भूख हड़ताल पर, जियो सिम को जलाया

उत्तर प्रदेश में नोएडा जिले के सेक्टर 95 दलित प्रेरणा स्थल पर धरना दे रहे भारतीय किसान यूनियन (लोकशक्ति) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मास्टर श्योराज सिह ने गुरुवार की सुबह गौतमबुद्ध नगर के सांसद और विधायकों को पत्र लिखकर सार्वजनिक रूप से उनके वाद-विवाद कानूनों के फायदे बताए। उभरने को कहा है। अगर भाजपा के जनप्रतिनिधि उन्हें फायदे पहुंचाने में कामयाब रहे तो वे धरना खत्म कर देंगे। वहीं सेक्टर 14 ए चिल्ला बार्डर पर भारतीय किसान यूनियन (भानु) गुट के 11 किसान भूख हड़ताल पर रहे। शाम लगभग पांच बजे किसानों ने जियो के सिम रैपर जलाकर अपना विरोध दर्ज कराया।

भारतीय किसान यूनियन (लोकशक्ति) के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री श्योराज सिह ने गौतमबुद्ध नगर के पुलिस कमिश्नर और जिला अधिकारी को एक पत्र भेजा है। मास्टर शिवराज सिह ने लिखा है, मैं हाथ जोड़कर प्रार्थना करता हूं कि गौतमबुद्ध नगर के सभी भाजपा सांसद और विधायक खुली बहस के लिए आमंत्रित हैं।

डॉ। महेश शर्मा, सुरेंद्र सिह नगर, नोएडा के विधायक पंकज सिह, दादरी के विधायक मास्टर तेजपाल नागर, जेवर के विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह और भारतीय जनता पार्टी के जिम्मेदार पदाधिकारी की खुली बहस के लिए आमंत्रित हैं।

किसान नेता ने कहा है कि कोई भी उचित पटल पर आकर या मुझे बुला कर अपने समय के बारे में कहता है मुझे नए कृषि बिल पर चर्चा या बहस करनी चाहिए। यदि आप मुझे कृषि बिल के फायदे समझाने में सफल रहे तो मैं अपना धरना समाप्त करूंगा। और यदि मैं आपको इस कृषि बिल के नुकसानदायक में सफल रहता हूं तो आप लोग मेरे साथ किसानों के हित में खड़े हो जाएं। इस स्वागत में आपका स्वागत रहेगा।

जियो कंपनी के सिम जलाकर किसानों ने विरोध दर्ज कराया
14 ए स्लाइड बार्डर पर गुरुवार को भारतीय किसान संघ (भानु) गुट के 11 किसान भूख हड़ताल पर रहे। भूख हड़ताल कर रहे किसानों ने कहा कि मोदी सरकार उद्योगपतियों की सरकार है। सरकार अपने मित्र उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए किसानों को बंधुआ मजदूर बनाने पर तुली है। लेकिन किसान ऐसा हरगिज नहीं होगा। शाम शाम लगभग पांच बजे 11 किसानों ने अपनी भूख हड़ताल समाप्त की। इसके बाद किसानों ने जियो सिम के रैपर जलाकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

रिजफा देने वाला किसान ने थामा भाकियू (भानु) का साथ दिया
भाकियू (भानु) से नाराज होकर इस्तीफा देने वाले सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को सेक्टर 141 में राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिह की उपस्थिति में संघ में वापस आ गए। राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिह ने कहा कि राष्ट्रीय, प्रदेश, व जिला स्तर पर कोर कमेटीयों का गठन किया जाएगा। भविष्य में कोर कमेटियों के सुझाव से ही निर्णय के लिए जाना होगा। उन्होंने सभी विधायकों के रिजफे नामंजूर करते हुए आंदोलन में पहले की तरह जुट जाने का निर्देश दिया है।

 

Source link

About dailynews

Check Also

टॉप न्यूज़

काशी के लिए एक बड़ी सौगात जल्द: ढाई माह बाद वाराणसी के अंदर से नहीं जाएंगे 7 जिलों के मालवाहक, नहीं लगेगा जाम; लंबे समय तक दुरुस्त रहेंगी शहर की सड़कें

हिंदी समाचार स्थानीय उत्तर प्रदेश वाराणसी ढाई माह बाद वाराणसी के अंदर से नहीं जाएगा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *